happy
7M+ Satisfied Customers
Astrology Services
From The House Of Astrologer Bejan Daruwalla

नक्षत्र भविष्यवाणी 2025 - Nakshatra Bhavishyavani 2025

नक्षत्र भविष्यवाणी 2025 - Nakshatra Bhavishyavani 2025


नक्षत्र 2025 भविष्यवाणियों में हम आपको नक्षत्रों पर आधारित भविष्यवाणियों के बारे में बताएंगे। इसमें आपको नक्षत्रों के आधार पर पता चलेगा कि आने वाला साल 2025 आपके लिए कितना खास और यादगार रहने वाला है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रह-नक्षत्रों की बदलती चाल के आधार पर राशिफल की गणना की जाती है। वैदिक ज्योतिष में नक्षत्रों को बहुत महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। तो आइए जानते हैं नक्षत्रों की चाल और स्थिति के आधार पर आपका आने वाला समय कैसा होगा, लेकिन उससे पहले हम जानेंगे कि नक्षत्र क्या होते हैं।


नक्षत्र आकाश में तारों का एक समूह है। वैदिक ज्योतिष में कुल 27 नक्षत्र बताये गये हैं। नक्षत्र ज्योतिष एवं विज्ञान के पांच महत्वपूर्ण घटकों में से एक है। इन नक्षत्रों को 'चंद्र हवेली' के नाम से भी जाना जाता है। नक्षत्र किसी भी इंसान का जीवन बदल सकते हैं। आइए अब जानते हैं नक्षत्रों के अनुसार आपका राशिफल 2025 क्या कहता है:


 

अश्विनी नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

Ashwini Nakshatra

 

अश्वनी नक्षत्र की राशि मेष है. अश्विनी नक्षत्र का विस्तार मेष राशि में 0 अंश से 13:20 अंश तक होता है। इसका प्रतीक अश्व यानि घोड़ा है। अश्विनी नक्षत्र के देवता अश्विनी कुमार हैं। अश्विनी कुमार को देवताओं का चिकित्सक माना जाता है और उन पर केतु ग्रह का शासन है। अश्विनी लग्न वाले व्यक्ति ऊर्जा से भरपूर होते हैं।


अश्विनी नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार, अश्विनी नक्षत्र का स्वामी केतु है और इसकी राशि मेष है। नक्षत्र ज्योतिष 2025 के अनुसार साल की शुरुआत में आपको स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। हालाँकि फरवरी से मई तक यह समय संतान संबंधी मामलों के लिए अच्छा साबित होगा और जो जातक संतान की उम्मीद कर रहे हैं उन्हें संतान सुख मिलने की भी अच्छी संभावना है। सितंबर से स्वास्थ्य में सुधार होगा और पारिवारिक जीवन में ख़ुशियाँ आएंगी। साल 2025 में जातकों के लिए विदेश यात्रा भी संभव है। वहीं, अश्विनी नक्षत्र शुक्र के अधीन आता है, जिसके अनुसार मार्च से मेष राशि वालों के कार्यक्षेत्र में उन्नति और नई नौकरियां मिलने की संभावनाएं बन रही हैं। कुछ परेशानियां आपको लंबे समय से परेशान कर रही हैं, साल 2025 में उनसे छुटकारा मिल जाएगा। इस दौरान अपने जीवनसाथी को लेकर सावधान रहें। महत्वपूर्ण मामलों या चीज़ों पर पैसा ख़र्च करने से पहले घर के बड़ों से सलाह लें। नवंबर से साल के अंत तक स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव रहेगा, इसलिए सतर्क रहें।


 

भरणी नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Bharani Nakshatra

 

भरणी नक्षत्र की राशि भी मेष है। भरणी नक्षत्र का विस्तार मेष राशि में 13.20 अंश से 26.50 अंश तक होता है। इस नक्षत्र का प्रतीक चिन्ह 'हाथी' है। इस नक्षत्र के देवता मृत्यु के देवता यम हैं और इसका स्वामी ग्रह शुक्र है।


भरणी नक्षत्र राशिफल 2025, भरणी नक्षत्र के जातकों का जीवन इस वर्ष प्रेम से भरा रहेगा क्योंकि बृहस्पति जून 2025 से नवंबर 2025 तक आपके नक्षत्र में गोचर करेगा। यह इस महीने के मध्य में यानी सितंबर 2025 को प्रतिगामी हो जाएगा।


ऐसे में यह समय आपके लिए बेहद अनुकूल रहेगा। अगर आप परिवार बढ़ाने की योजना बना रहे हैं तो यह साल आपके लिए बेहतर साबित होगा। इस वर्ष आप अपने पारिवारिक जीवन का भरपूर आनंद उठाएंगे, विशेषकर महिलाएं इस दौरान तरह-तरह के व्यंजन बनाकर अपने परिवार के सदस्यों के साथ खुश और खुश रहेंगी। इसके साथ ही साल की शुरुआत में राहु भी आपके ही नक्षत्र में रहेगा, जिसके कारण आपका ध्यान अध्यात्म की ओर अधिक रहेगा और आप खुद को सांसारिक मोह-माया से दूर पाएंगे।


 

कृतिका नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Kritika Nakshatra

 

कृतिका नक्षत्र का विस्तार मेष और वृषभ राशि में 26.60 डिग्री (मेष) से 10 डिग्री (वृषभ) तक होता है। कृत्तिका नक्षत्र का चिन्ह कुल्हाड़ी, चाकू या ज्वाला है। इस नक्षत्र के देवता अग्नि देव हैं। अग्नि देव हिंदू धर्म में अग्नि के देवता हैं और इसके स्वामी ग्रह सूर्य हैं।


कृत्तिका नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार कृतिका नक्षत्र के जातकों के लिए यह समय उतार-चढ़ाव भरा हो सकता है। आर्थिक मामलों में आपको सोच-समझकर खर्च करने की सलाह दी जाती है क्योंकि कई चीजों पर आपका खर्च बढ़ सकता है, जैसे घर का नवीनीकरण, परिवार के साथ छुट्टियां बिताना आदि। संभावना है कि इन चीजों में काफी पैसा खर्च हो सकता है। ऐसी स्थिति में, आपको चिकित्सा उपचार, बच्चों की शिक्षा और अन्य पारिवारिक जरूरतों जैसी आपात स्थितियों के लिए पर्याप्त धन बचाने पर विचार करने की आवश्यकता हो सकती है। कृतिका नक्षत्र का स्वामी सूर्य है, जिसके अनुसार फरवरी 2025 के अंतिम चरण से आपको कोई खोई हुई या बिछड़ी हुई वस्तु मिल सकती है। इस समय आप प्यार में भी पड़ सकते हैं। विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई पर ध्यान देने की जरूरत है, अन्यथा इसका असर उनके परिणाम पर पड़ सकता है। फरवरी से अप्रैल तक अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें। बिजनेस के लिए यह समय शुभ हो सकता है और आपको आर्थिक लाभ मिलेगा। इस दौरान मानसिक तनाव होने की भी प्रबल संभावना है। नवंबर से साल के अंत तक अंधविश्वासी न बनें और प्यार को समझने के लिए खुद को समय दें।


कुल मिलाकर इस अवधि में आप ख़ुशी महसूस कर सकते हैं क्योंकि आपका निजी और पारिवारिक जीवन दोनों सुखद रहेगा। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें और ज्यादा चिंता न करें और न ही सोचें क्योंकि किसी भी प्रकार का मानसिक तनाव आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है।


 

रोहिणी नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Rohini Nakshatra

 

रोहिणी नक्षत्र का विस्तार वृषभ राशि में 10.1 अंश से 23.2 अंश तक होता है। इसका प्रतीक 'रथ' है और इस नक्षत्र के देवता भगवान ब्रह्मा हैं। इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह चंद्रमा है। रोहिणी नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार यह वर्ष आपके लिए बहुत अच्छा रहने वाला है। वहीं रोहिणी नक्षत्र का स्वामी चंद्रमा है और इस हिसाब से इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले जातकों के लिए यह साल खास रहने वाला है। फरवरी से अप्रैल के मध्य तक आपको कार्यक्षेत्र में सफलता और अधिकारियों से सहयोग मिलेगा। जून से अगस्त तक आपको जीवनसाथी के साथ साझेदारी के साथ-साथ व्यापार में भी लाभ मिलने की संभावना है। इस दौरान आपकी मुलाकात कुछ बड़े लोगों से होगी। अक्टूबर से साल के अंतिम चरण तक का समय सरकारी कर्मचारियों और प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले जातकों के लिए अच्छा रहेगा।


करियर की दृष्टि से तरक्की के लिए नौकरी बदलने का निर्णय अनुकूल साबित होगा। ऐसे में आपको अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित रखना होगा। इसके अलावा इस दौरान विदेश यात्रा के भी योग बन रहे हैं।


प्रेम जीवन और दांपत्य जीवन में आप अपने साथी के साथ अच्छा समय बिताएंगे। इस साल आपकी रोमांटिक लाइफ रोमांस से भरपूर रहेगी। शादीशुदा लोग अपने रिश्ते में खुश रहेंगे और इस साल का आनंद उठाएंगे।


 

मृगशिरा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Mrigashira Nakshatra

 

मृगशिरा नक्षत्र का विस्तार वृषभ और मिथुन राशि में 23.3 डिग्री से 6.40 डिग्री तक होता है। इसका प्रतीक हिरण का सिर है और नक्षत्र देवता सोम (चन्द्र/चन्द्रमा) है। मृगशिरा नक्षत्र का स्वामी ग्रह मंगल है, जिसके अनुसार साल 2025 में आपको आर्थिक उन्नति की राह दिख सकती है।


नेटवर्किंग के क्षेत्र में यह साल बेहतरीन परिणाम दे सकता है। आप प्रभावशाली लोगों के संपर्क में आएंगे। हालाँकि आर्थिक मामलों में आपको सावधान रहने की आवश्यकता हो सकती है क्योंकि थोड़ी सी लापरवाही से आर्थिक नुकसान हो सकता है।


स्वास्थ्य की दृष्टि से छोटी-मोटी समस्याओं जैसे पाचन तंत्र से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि आप सावधान रहें और स्वस्थ आहार लें और कोई भी समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।


 

आर्द्रा नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Ardra Nakshatra

 

आर्द्रा नक्षत्र का विस्तार मिथुन राशि में 6.41 अंश से 20 अंश तक होता है। आर्द्रा नक्षत्र का प्रतीक भी 'अश्रु बूँद' है और इसके देवता रुद्र (शिव का एक रूप) हैं। इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह राहु है। इसके मुताबिक साल 2025 की शुरुआत इस राशि में जन्मे मिथुन राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति के लिए अच्छी रहेगी। जनवरी के मध्य से मार्च तक करियर में बदलाव की अच्छी संभावना है। कोशिश करें और सितंबर से नवंबर तक यात्रा करने से बचें। जीवनसाथी की दृष्टि से यह अच्छा योग है।


आर्द्रा नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार, आपके नक्षत्र स्वामी राहु लगभग पूरे वर्ष मेष राशि में स्थित रहेंगे, जिसके कारण आपको अपने स्वभाव पर ध्यान देने की आवश्यकता है। कार्यस्थल पर अपने ग्राहकों या साथियों के साथ बातचीत करते समय संयमित रहें, अन्यथा आपका व्यवहार आपकी छवि खराब कर सकता है।


आर्द्रा नक्षत्र का स्वामी ग्रह राहु है, जो जनवरी से मार्च तक जातकों को आर्थिक लाभ देगा, लेकिन राहु के प्रभाव के कारण आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। सीने में दर्द या अन्य कोई स्वास्थ्य समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। मई से आपके वैवाहिक जीवन में आत्मविश्वास बढ़ेगा। प्रेमियों के बीच कोई गलतफहमी इस दौरान खत्म हो जाएगी। आपको सलाह दी जाती है कि किसी से पैसा उधार लेने या उधार देने से बचें।


प्रेम जीवन का समय भी कुछ ऐसा ही रहेगा। संभावना है कि आप अपने प्रेमी को नज़रअंदाज़ कर सकते हैं और भावनात्मक रूप से आहत हो सकते हैं। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि किसी भी मामले में बहस करने या दबाव बनाने के बजाय बातचीत के जरिए मुद्दों को सुलझाएं और यह समझने की कोशिश करें कि आपका साथी किस स्थिति से गुजर रहा है। साल के आखिरी तीन महीने अक्टूबर, नवंबर और दिसंबर आपके लिए राहत भरे रहेंगे।


 

पुनर्वसु नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Punarvasu Nakshatra

 

27 नक्षत्रों में से, पुनर्वसु नक्षत्र मिथुन और कर्क दोनों में 20.1 डिग्री (मिथुन) से 3.20 डिग्री (कर्क) तक फैला हुआ है। इसका प्रतीक चिन्ह 'बाणों का तरकश' है। इस नक्षत्र का स्वामी देवी अदिति हैं, जिन्हें देवताओं की माता कहा जाता है। पुनर्वसु नक्षत्र का स्वामी ग्रह बृहस्पति है।


इस वर्ष आपको औसतन फलदायी परिणाम मिलेंगे। आपके नक्षत्र का स्वामी बृहस्पति, मेष राशि में गोचर के साथ एक नया पारगमन चक्र शुरू करेगा। ऐसे में इस बात की प्रबल संभावना है कि आप अपने जीवन के किसी नए अध्याय से परिचित होंगे और कई चीजें खत्म हो जाएंगी। यदि मिथुन राशि के जातकों का जन्म पुनर्वसु नक्षत्र में हुआ है, तो यह नक्षत्र देवगुरु बृहस्पति द्वारा शासित होता है, जो इस वर्ष आपको लाभ देगा लेकिन कुछ उतार-चढ़ाव के साथ।


इस पूरी प्रक्रिया में नई भूमिका और जिम्मेदारी से आप दबाव महसूस कर सकते हैं। लेकिन, साल 2025 आध्यात्मिक विकास के लिए अच्छा रहेगा। हालाँकि, आपके पेशेवर जीवन और निजी जीवन में औसत बदलाव देखने को मिल सकते हैं। फरवरी से जून तक आपको कार्य या व्यवसाय में आर्थिक लाभ मिलेगा। इस दौरान दांपत्य जीवन अनुकूल रहेगा। जुलाई से आपकी सेहत में सुधार महसूस होगा और किसी पुरानी बीमारी से छुटकारा मिल सकता है। किसी नए काम से आपको लाभ मिल सकता है और आप अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव देखेंगे।


 

पुष्य नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Pushya Nakshatra

 

संपूर्ण कर्क राशि में पुष्य नक्षत्र का विस्तार 3.21 अंश से 16.40 अंश तक है। इसका प्रतीक "दुधारू गाय का थन" या पहिया है। पुष्य नक्षत्र के अधिपति बृहस्पति हैं। इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह शनि है। इस नक्षत्र में जन्मे कर्क राशि के जातकों के लिए साल 2025 की शुरुआत अनुकूल रहेगी। फरवरी से सभी रुके हुए काम क्रियान्वित होंगे और सब कुछ सुचारू रूप से चलेगा। आपकी वित्तीय स्थिति में सुधार होने की संभावना है और वर्ष 2025 में आपको गुप्त स्रोतों से धन लाभ हो सकता है। जून के मध्य तक नौकरी चाहने वालों को नौकरी के अच्छे अवसर मिलेंगे और बेरोजगारों को भी नौकरी के अवसर मिलेंगे। इस दौरान आपको विदेशी कंपनियों और बहुराष्ट्रीय कंपनियों से नौकरी के प्रस्ताव मिलेंगे। साल के अंत में आपको किसी लंबी बीमारी या बीमारी से राहत मिल सकती है।


इस वर्ष पुष्य नक्षत्र के जातकों को आर्थिक लाभ हो सकता है। आपको पैतृक संपत्ति या किसी ज़मीन, घर या वाहन की बिक्री से आर्थिक लाभ हो सकता है। इस वर्ष आपके वित्तीय जीवन में धीमी और स्थिर वृद्धि हो सकती है।


प्रेम जीवन की बात करें तो आपको अपने रिश्ते में प्यार बनाए रखने के लिए भरपूर प्रयास करने की जरूरत होगी। आपका रवैया भी आपके ब्रेकअप का कारण बन सकता है। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने रिश्ते पर ध्यान दें।


 

अश्लेषा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Ashlesha Nakshatra

 

अश्लेषा नक्षत्र का विस्तार कर्क राशि में 16.41° से 30° तक होता है। यह तारामंडल 'कुंडलित सांप' की तरह दिखता है। नक्षत्र देवता नाग/सर्प हैं। इस नक्षत्र का स्वामी बुध ग्रह है। यदि आपका जन्म इस नक्षत्र में हुआ है तो साल की शुरुआत में आपको शेयर बाजार में लाभ मिलेगा। इस नक्षत्र के जातकों को गुप्त स्रोतों से भी लाभ हो सकता है। जून से सितंबर के बीच आपको अपने परिवार से शुभ समाचार मिलने की संभावना है। हालाँकि आपको अपने काम में सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। जुलाई से नवंबर के बीच त्वचा संबंधी समस्याओं से सावधान रहें। विद्यार्थियों के लिए यह समय आनंदमय रहेगा।


अश्लेषा नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार, आप अपनी नौकरी में जिन समस्याओं और दबाव का सामना कर रहे थे, इस वर्ष समाप्त होने की संभावना है। इसके साथ ही इस नक्षत्र के जातकों को विदेश या दूर स्थान पर करियर के अच्छे अवसर मिल सकते हैं। अप्रैल के बाद आर्थिक लेन-देन में लाभ होने की संभावना है।


प्रेम और वैवाहिक जीवन की बात करें तो आपको कई झगड़ों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि आप अपने पार्टनर से खुलकर बात नहीं करते हैं और इसी बात की शिकायत आपके पार्टनर को रहती है। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि जितना हो सके अपने पार्टनर से बात करने की कोशिश करें। कुल मिलाकर यह साल आपके लिए ज्यादा कठिन नहीं है।


 

मघा नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Magha Nakshatra

 

मघा नक्षत्र का विस्तार सिंह राशि में 0 अंश से 13.20 अंश तक होता है, इसका प्रतीक 'राज सिंहासन' है तथा नक्षत्र देवता पितर हैं। मघा नक्षत्र का स्वामी ग्रह केतु है। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले सिंह राशि के जातकों के लिए साल 2025 बेहद शुभ रहेगा। वर्ष की शुरुआत से ही आप अपने पेशेवर जीवन में उन्नति करेंगे और उच्च अधिकारियों के साथ संबंधों में सुधार होगा। हालाँकि, जून से वैवाहिक कलह के लिए किसी बुद्धिमान व्यक्ति से सलाह लेने का प्रयास करें। स्वास्थ्य में सुधार और प्रेम जीवन में मधुरता आएगी। सितंबर से ट्रांसफर का तनाव न लें और जितना हो सके शांत रहें।


जीवन के हर क्षेत्र में यह साल आपके लिए बहुत अच्छा रहने वाला है। पहले जो भी परेशानियां आपको झेलनी पड़ रही थीं, वे परेशानियां खत्म होने की संभावना है। आप प्रगति और विकास की ओर आगे बढ़ेंगे। प्रोफेशनल लाइफ में आपको अपनी मेहनत का फल मिलेगा। काम के सिलसिले में आपके विदेश जाने के योग बन सकते हैं। पारिवारिक जीवन नियंत्रण में रहेगा. घर में शांति का माहौल रहेगा और आपको पार्टनर का सहयोग भी मिलेगा।


स्वास्थ्य के लिहाज से आपको सलाह दी जाती है कि किसी भी तरह के नशे से दूर रहें क्योंकि यह आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। साथ ही आपको अपने गुस्से पर काबू रखने की भी सलाह दी जाती है क्योंकि आपका गुस्सा स्वास्थ्य के लिहाज से आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इस दौरान आपको खुद को फिट रखने के लिए मेडिटेशन करने की जरूरत पड़ेगी।


 

पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Purva Phalguni Nakshatra

 

पूर्वाफाल्गुनी का विस्तार सिंह राशि में 13.21 अंश से 26.40 अंश तक रहता है. इसका प्रतीक 'सोफ़ा' या 'बिस्तर का सिरहा' है। इस नक्षत्र पर देवी भगा का शासन है, जो सौभाग्य और आनंद की देवी हैं। इसका स्वामी ग्रह शुक्र है, जिसके अनुसार यह वर्ष इस नक्षत्र में जन्मे जातकों के लिए सौभाग्य लेकर आएगा। फरवरी के मध्य से आपके कामकाजी जीवन में बदलाव देखने को मिलेंगे और आपको आर्थिक लाभ होगा। नक्षत्र पर आधारित राशिफल 2025 के अनुसार आपके लिए नई नौकरी पाने का अच्छा मौका है। नवंबर की शुरुआत से अपनी सेहत का थोड़ा ख्याल रखें और फिजूलखर्ची से बचें।


नक्षत्र राशिफल 2025 यह वर्ष आपके लिए सौभाग्य लेकर आएगा। इस साल फ्रेशर्स को नई नौकरी पाने का मौका मिलेगा जिससे वे अपना करियर शुरू कर सकेंगे।


जो लोग अब तक सिंगल हैं, अक्टूबर में उनकी जिंदगी में किसी खास की एंट्री हो सकती है। इसके अलावा, जब आपका नक्षत्र स्वामी शुक्र आपके पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में गोचर करेगा, तो आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहना होगा।


 

उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Uttara Phalguni Nakshatra

 

उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र का विस्तार 26.41 अंश (सिंह) से 10.00 अंश (कन्या) तक होता है। इसका प्रतीक 'बिस्तर के पिछले पैर'' जैसा दिखता है। नक्षत्र देवता जानवरों के रक्षक 'आर्यमन' हैं। उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र का स्वामी ग्रह सूर्य है और इस नक्षत्र में जन्मे सिंह राशि के जातकों को कार्यस्थल पर अपने वरिष्ठों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने की जरूरत है। इसके अलावा हर क्षेत्र के हिसाब से यह साल आपके लिए थोड़ा अजीब रहेगा।


इस वर्ष आपको अपने लिए कुछ कठिन निर्णय लेने पड़ सकते हैं। आपकी वाणी में कठोरता के भाव रहेंगे, जिससे दूसरों को परेशानी हो सकती है। इससे आपके जीवन के कई पहलुओं में अचानक परेशानियां आ सकती हैं। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि आप निराश न हों और भगवान गणेश की विधि-विधान से पूजा-अर्चना करें। वहीं साल का दूसरा भाग कई बड़े फैसले लेने और किसी भी चीज़ में बदलाव करने के लिए अनुकूल रहेगा।


कन्या राशि के जातकों का जन्म इस नक्षत्र में हुआ है, इन्हें साल 2025 में सम्मान मिलेगा। जून में पुरानी बीमारी का पता चलेगा, जिससे आपके स्वास्थ्य में सुधार होगा। सितंबर से आर्थिक विवादों के कारण कानूनी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। साल का अंतिम चरण विद्यार्थियों के लिए बेहतर साबित होगा।


 

हस्त नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Hasta Nakshatra

 

नक्षत्रों के क्रम में हस्त नक्षत्र का विस्तार कन्या राशि में 10 अंश से 23.20 अंश तक होता है। इसका प्रतीक 'खुली हथेली' है और नक्षत्र देवता सूर्य हैं। हस्त नक्षत्र का स्वामी ग्रह चंद्रमा है। हस्त नक्षत्र का स्वामी चंद्रमा होने के कारण कन्या राशि के जातकों के लिए साल 2025 आर्थिक स्थिति के लिहाज से अच्छा रहने वाला है। फरवरी के मध्य से आप अपने जीवन के साथ-साथ कार्यक्षेत्र में भी समृद्ध रहेंगे। यही वह समय है जब आपके कई सपने सच हो सकते हैं। सितंबर से आपको अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। इस अवधि में जीवनसाथी से परेशानी होने की आशंका है।


कोई भी निर्णय लेने से पहले आपको गहराई से विचार करने की आवश्यकता होगी। ऐसे में किसी भी तरह का जोखिम लेने से बचें। आपकी वाणी ही आपकी सभी समस्याओं की कुंजी है, इसलिए खुद को शांत रखें।


स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहने की सलाह दी जाती है। नियमित स्वास्थ्य जांच करवाएं और बाहर का खाना और अधिक तेल-मसाले वाली चीजें खाने से बचें। इस साल कई उतार-चढ़ाव के दौरान आपको अपनी सोच सकारात्मक रखने की सलाह दी जाती है।


 

चित्रा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Chitra Nakshatra

 

चित्रा नक्षत्र का विस्तार 23.20 अंश (कन्या) से 6.40 अंश (तुला) तक होता है। इसका प्रतीक 'मोती या मोती' है और नक्षत्र देवता 'त्वष्ट्र' या 'विश्वकर्मा' हैं, जो ब्रह्मांड के निर्माता ब्रह्माजी के वंशज हैं। चित्रा नक्षत्र का स्वामी ग्रह मंगल है। कन्या राशि वालों के लिए जून का महीना करियर के लिहाज से काफी अनुकूल रह सकता है। और आपकी कई योजनाएं सफल भी होंगी। साल 2025 में फरवरी से मई के बीच आपको अपनों का भरपूर सहयोग मिलेगा। आपको पेट से जुड़ी समस्याओं के प्रति अधिक सावधान रहने की सलाह दी जाती है। लव लाइफ और फाइनेंस की बात करें तो यह समय आपके लिए काफी फलदायक साबित हो सकता है।


नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार इस वर्ष आपको अपनी तीन साल की मेहनत का फल मिलेगा। हालाँकि छोटी-मोटी चुनौतियाँ आ सकती हैं, लेकिन इस वर्ष कार्यक्षेत्र में आपको पदोन्नति मिलने की प्रबल संभावना है। यह प्रमोशन आपको और भी अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करेगा।


साल के दूसरे भाग में केतु भी मौजूद हैं। ऐसे में संभावना है कि आप अपनी सेहत को नजरअंदाज कर देंगे। आपको सलाह दी जाती है कि आप खुद को समान रूप से प्राथमिकता दें। स्वास्थ्य पर भी बराबर ध्यान दें.


 

स्वाति नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Swati Nakshatra

 

27 नक्षत्रों में से स्वाति नक्षत्र का विस्तार तुला राशि में 6.40 अंश से 20.00 अंश तक होता है। इसका प्रतीक 'मूंगा' या 'पौधे का अंकुर' है और इसके देवता पवन देव हैं। स्वाति नक्षत्र का स्वामी राहु है। नक्षत्र 2025 राशिफल के अनुसार, आपके सभी रुके हुए काम बनेंगे, लेकिन इस वर्ष कार्यक्षेत्र में अचानक स्थानांतरण हो सकता है। जून आपके जीवन में नए प्यार की शुरुआत हो सकता है। इस पूरे वर्ष आपके पिता आपको प्यार और सहयोग प्रदान करेंगे और आपके पिता का व्यवसाय समृद्ध होगा। इस वर्ष आपका वैवाहिक जीवन आनंद और प्रेम से भरा रह सकता है और सितंबर के आखिरी कुछ दिनों तक आपको अपने स्वास्थ्य में सुधार देखने को मिलेगा।


साल के पहले भाग में केतु आपके नक्षत्र में स्थित रहेगा। इसके कारण आप स्वयं में खुशी और उत्साह की कमी महसूस कर सकते हैं। इसके अलावा नौकरीपेशा लोगों को कार्यस्थल पर ट्रांसफर मिल सकता है, जिससे आपको कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जो जातक शादी करने की योजना बना रहे हैं उन्हें साल के अंत में शादी के बारे में विचार करने की सलाह दी जाती है क्योंकि बाकी समय शादी के लिए उपयुक्त नहीं है।


 

विशाखा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Vishakha Nakshatra

 

विशाखा नक्षत्र का विस्तार तुला और वृश्चिक राशि में 20 डिग्री (तुला) से 3.20 डिग्री (वृश्चिक) तक होता है। इसका प्रतीक चिन्ह 'सजाया हुआ तोरण, कुम्हार का पहिया' है और नक्षत्र देवता इंद्राग्नि हैं, जो देवताओं के राजा इंद्र की पत्नी हैं। विशाखा नक्षत्र का स्वामी ग्रह बृहस्पति है जो आपको इस वर्ष कुछ भी महत्वपूर्ण कार्य करने से पहले दो बार सोचने की सलाह देता है। जून के बाद आपको कार्यस्थल पर अधिकारियों और वरिष्ठों का सहयोग मिलेगा। साथ ही दांपत्य जीवन में आपको पार्टनर का पूरा सहयोग मिलेगा। जुलाई की शुरुआत विद्यार्थियों के लिए अनुकूल रहेगी। आपको मोटापे से संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, इसलिए सावधान रहें। साथ ही अगर कोई बीमारी आपको लंबे समय से परेशान कर रही है तो उससे भी छुटकारा मिलने की प्रबल संभावना है।


करियर के क्षेत्र में आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। मार्च के बाद आपके विचारों में सकारात्मकता आएगी, जिससे सफलता के नए द्वार खुलेंगे। इस दौरान आपको कार्यक्षेत्र में अच्छे नतीजे मिलेंगे। आपको सहकर्मियों से सहयोग तो मिलेगा, लेकिन उतना नहीं, जितनी आप उम्मीद कर रहे हैं। ऐसे में आप किसी पर भी आंख मूंदकर भरोसा न करें।


आर्थिक जीवन में आपको उम्मीद से बेहतर परिणाम मिलेंगे। साल के मध्य में शुभ समाचार आपको प्रसन्न कर सकता है। साथ ही आपके घर में किसी मांगलिक कार्यक्रम का आयोजन भी हो सकता है।


 

अनुराधा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Anuradha Nakshatra

 

अनुराधा नक्षत्र का विस्तार वृश्चिक राशि में 3.20 अंश से 16.40 अंश तक होता है। इसका प्रतीक चिन्ह 'कमल का फूल' है। नक्षत्र देवता मित्र हैं, जो मित्रता और सहयोग के देवता हैं। अनुराधा नक्षत्र का स्वामी ग्रह शनि है, जो आपके नए साल की शुरुआत अच्छे स्वास्थ्य के साथ करेगा। फरवरी से आपको जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा और आप दोनों साथ में बाहर घूमने भी जा सकते हैं। अगस्त के मध्य के बाद कोई शुभ कार्य हो सकता है। आपको अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखने की सलाह दी जाती है, क्योंकि सर्वाइकल जैसी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करने की संभावना अधिक है। सितंबर से दोस्ती पर थोड़ा ध्यान दें, अन्यथा बदनामी का शिकार हो सकते हैं।


इस साल आपको निवेश का फैसला सोच-समझकर लेना होगा। आपके द्वारा उठाया गया एक भी गलत कदम आपके निवेश और कमाए गए पैसों को नुकसान पहुंचा सकता है। साथ ही आपको भावनात्मक रूप से भी प्रभावित कर सकता है. ऐसे में इस वर्ष आर्थिक मामलों को लेकर थोड़ा सतर्क और जागरूक रहने की जरूरत रहेगी।


शिक्षा की दृष्टि से यह वर्ष आपके लिए अच्छा है। उच्च शिक्षा के छात्र नई ऊंचाइयों को छूएंगे। एथलेटिक्स या अन्य गतिविधियों से जुड़े छात्रों के लिए भी यह वर्ष अनुकूल रहेगा।


 

ज्येष्ठा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Jyestha Nakshatra

 

ज्येष्ठा नक्षत्र का विस्तार वृश्चिक राशि में 16.40 अंश से 30 अंश तक पूर्णतः रहता है। इसका प्रतीक 'कुंडल या छत्र' है और नक्षत्र देवता देवताओं के राजा इंद्र देव हैं। ज्येष्ठा नक्षत्र का स्वामित्व बुध ग्रह के पास है। साल की शुरुआत से ही कार्यक्षेत्र में आपके काम की सराहना होगी। फरवरी से संतान प्राप्ति के योग हैं, जिससे आपका वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा। बैंकिंग क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को उन्नति और पदोन्नति से लाभ होने की पूरी संभावना है। सितंबर से विदेश यात्रा की संभावना है। स्वास्थ्य और फिटनेस के लिहाज से नवंबर आपके लिए बेहतर रहेगा।


नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार, इस वर्ष आपको अपने स्वास्थ्य पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होगी क्योंकि पाचन, पेट में संक्रमण, खांसी और मोटापा से संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं। आपको तनाव से छुटकारा पाने के लिए शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने की सलाह दी जाती है।


करियर और सार्वजनिक छवि की बात करें तो इस साल आपको काफी बदलाव देखने को मिलेंगे। आप अपनी बुद्धिमत्ता से सभी चुनौतियों से अच्छे से निपटेंगे और अपनी अच्छी छवि बनाए रखने में सफल रहेंगे। आपको अपने सहकर्मियों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने की सलाह दी जाती है क्योंकि यह आपके लिए फायदेमंद साबित होंगे।


 

मूला नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Moola Nakshatra

 

मूला नक्षत्र का विस्तार धनु राशि में 0 अंश से 13.20 अंश तक रहता है। इसका प्रतीक 'जड़ों का बंधा हुआ बंडल' है तथा नक्षत्र देवता निरति हैं। मूला नक्षत्र का स्वामी ग्रह केतु है। इसलिए धनु राशि के जातकों को साल 2025 में कार्यक्षेत्र में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जनवरी के मध्य से मार्च के बीच आपको करियर में बदलाव देखने को मिलने की संभावना है। आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने प्यार पर विश्वास बनाये रखें। 16 सितंबर से 9 नवंबर तक किसी भी यात्रा पर जाने से बचने का प्रयास करें। इस दौरान जीवनसाथी के साथ संबंध अच्छे रहेंगे। साल 2025 में आपको जोड़ों के दर्द से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए सावधान रहें।


जो लोग शिक्षा, विवाह और करियर जैसे क्षेत्रों में काउंसलिंग और सेवा संबंधी कार्य कर रहे हैं, उनके लिए यह समय अच्छा रहेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको जिम जाने, सैर करने और योग आदि करने की सलाह दी जाती है। इससे आप फिट महसूस करेंगे और आपके स्वास्थ्य में सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेंगे। स्वस्थ आहार लें और अस्वास्थ्यकर स्नैक्स, उच्च वसा और वसायुक्त खाद्य पदार्थों से दूर रहें।


 

पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Purvashadha Nakshatra

 

पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र धनु राशि में 13.20° से 26.40° तक फैला हुआ है.. इसका प्रतीक 'हाथी का दांत' है और नक्षत्र देवता अपस, जल के हिंदू देवता हैं। पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र का स्वामी शुक्र ग्रह है। इस नक्षत्र में जन्मे धनु राशि के जातकों के लिए वर्ष 2025 शुरुआत से ही अनुकूल रहेगा। जनवरी के बाद आपका प्रेम जीवन समृद्ध हो सकता है और आपको अपने प्रिय से कोई बढ़िया उपहार मिल सकता है। फरवरी से जून तक का समय आर्थिक मामलों के लिए फलदायी रहेगा और आप खोए हुए धन को भी पुनः प्राप्त कर सकते हैं।


पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र के जातकों के लिए यह साल उम्मीदों से भरा रहेगा। नौकरीपेशा जातकों के लिए यह वर्ष उत्तम परिणाम लेकर आएगा। आपको अपनी मेहनत का बेहतरीन परिणाम मिल सकता है। साथ ही वेतन वृद्धि की भी संभावना है।


यदि आप अविवाहित हैं तो इस वर्ष विवाह के योग बन सकते हैं। संभावना है कि आपके जीवन में किसी खास व्यक्ति का आगमन हो सकता है, लेकिन ऐसे संकेत भी हैं कि वह व्यक्ति किसी अन्य धर्म और संप्रदाय का अनुयायी भी हो सकता है।


 

उत्तराषाढ़ा नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Uttarasadha Nakshatra

 

उत्तराषाढ़ा नक्षत्र का विस्तार धनु और मकर राशि में 26.40 डिग्री (धनु) से 10 डिग्री (मकर) तक होता है। इसका प्रतीक 'आइवरी' है और नक्षत्र देवता विश्वेदेव हैं। उत्तराषाढ़ा नक्षत्र का स्वामी सूर्य है, जो दर्शाता है कि वर्ष 2025 में मार्च से आपको कार्यस्थल पर अपने अधिकारियों से भरपूर सहयोग मिलेगा। जून से विवादित संपत्ति से लाभ होने की संभावना है। इस दौरान आपके माता-पिता प्रसन्न महसूस करेंगे। आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होने और आपकी संपत्ति में वृद्धि होने की उम्मीद है।


करियर के लिहाज से यह साल बेहतरीन रह सकता है। सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे लोगों को अच्छी नौकरी मिल सकती है। संभावना है कि अप्रैल के दौरान आपको कार्यक्षेत्र में बड़ी सफलता मिलेगी।


पारिवारिक जीवन के लिहाज से भी यह समय अच्छा रहेगा। आपकी संतान प्राप्ति की इच्छा पूरी होगी। आपकी बायीं आंख में कोई समस्या हो सकती है जिसके कारण आपको पूरे साल संघर्ष करना पड़ेगा, इसलिए सावधान रहें। इस साल आपको अच्छी खबर सुनने को मिल सकती है।


 

श्रवण नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Shravana Nakshatra

 

श्रवण और धनिष्ठा नक्षत्र मकर राशि के अंतर्गत आते हैं। श्रवण नक्षत्र का विस्तार मकर राशि में 10.00 अंश से 23.20 अंश तक होता है। इसका प्रतीक 'कान' है और नक्षत्र देवता भगवान विष्णु, संरक्षक और रक्षक हैं। श्रवण नक्षत्र का स्वामी ग्रह चन्द्रमा है। साल की शुरुआत में आप विदेश यात्राओं पर जाएंगे और ये यात्राएं आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती हैं। इस वर्ष आपको आर्थिक मामलों में सुधार देखने को मिल सकता है। हालाँकि जून के बाद आपको वैवाहिक जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस वर्ष महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले अपनी माँ से सलाह अवश्य लें।


आप लंबे समय से जिस भी समस्या या दबाव से जूझ रहे हैं, इस साल उससे राहत मिलने की संभावना है। इस साल आप अच्छा समय बिता पाएंगे, लेकिन आपको अपनी भाषा और वाणी पर ध्यान देने की जरूरत होगी। कठोर शब्द आपके लिए परेशानी का कारण बन सकते हैं।


अगर आप इस साल नया घर खरीदने, अपने घर का नवीनीकरण या वाहन खरीदने की योजना बना रहे हैं तो यह समय उसके लिए बहुत अच्छा रहेगा। आपको बुजुर्गों, जरूरतमंदों और विकलांगों की मदद करने की सलाह दी जाती है। इससे आपको शांति और आनंद मिलेगा.


 

धनिष्ठा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Dhanishtha Nakshatra

 

धनिष्ठा नक्षत्र का विस्तार मकर और कुंभ राशि में 23.20 डिग्री (मकर) से 6.40 डिग्री (कुंभ) तक होता है। इसका प्रतीक 'डमरू' है तथा नक्षत्र देवता 'आठ वसु' हैं। धनिष्ठा नक्षत्र का स्वामी मंगल है। नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार अप्रैल के दौरान आपको कार्यक्षेत्र में बड़ी सफलता मिलेगी। मई के बाद जमीन संबंधी मामलों में आपको सकारात्मक परिणाम मिलने की संभावना है। आपको किसी भी स्वास्थ्य समस्या से बचने के लिए अपने हाथों की विशेष देखभाल करने की सलाह दी जाती है।


शनि ग्रह वर्ष की शुरुआत से मार्च 2025 तक आपके नक्षत्र में रहेगा और फिर अक्टूबर 2025 से नवंबर 2025 तक आपके नक्षत्र में पुनः प्रवेश करेगा। इसके कारण वर्ष की शुरुआत में आर्थिक लाभ भी हो सकता है। संभावना है कि आपको रुका हुआ या रुका हुआ पैसा मिल सकेगा।


इस वर्ष आपको सलाह दी जाती है कि आप अपनी माँ का आशीर्वाद प्राप्त करें और उनकी अच्छी देखभाल करें।


 

शतभिषा नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Shatbhisha Nakshatra

 

शतभिषा नक्षत्र का विस्तार कुम्भ राशि में 6.40 अंश से 20.00 अंश तक रहता है। इसका प्रतीक 'चक्र या 100 उपचारक, तारे या फूल' है और नक्षत्र देवता वरुण, महासागरों के देवता हैं। शतभिषा नक्षत्र का स्वामी राहु है, जो दर्शाता है कि फरवरी से अप्रैल तक विदेश से जुड़े व्यापार के अवसर आपके दरवाजे पर दस्तक दे सकते हैं। हालाँकि जुलाई के मध्य में इस राशि के जातकों के वैवाहिक जीवन में परेशानियां आ सकती हैं। आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है। सितंबर के बाद आर्थिक दृष्टि से समय अच्छा रहेगा, लेकिन स्वास्थ्य पर ध्यान दें क्योंकि पेट से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता होगी।


अगर आप लंबे समय से खुद को नजरअंदाज कर रहे थे तो इस दौरान आपको खुद पर ध्यान देने की जरूरत है। फुल बॉडी चेकअप कराएं. इस वर्ष आपको करियर के मामले में अधिक मेहनत करने की आवश्यकता हो सकती है, लेकिन संभावना है कि आपको अपनी मेहनत के अनुरूप परिणाम नहीं मिलेगा। यदि आप अपने कार्यस्थल पर कुछ बदलाव करने की योजना बना रहे हैं तो इस वर्ष के लिए अपनी योजनाओं को स्थगित कर दें।


 

पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Purva Bhadrapada Nakshatra

 

नक्षत्र मंडल में पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र का विस्तार कुंभ और मीन राशि में 20.00 डिग्री (कुंभ) से 3.20 डिग्री (मीन) तक होता है। इसका प्रतीक 'अंतिम संस्कार की खाट (अर्थी) के सामने दो चेहरे या दो पैरों वाला एक आदमी' है और नक्षत्र स्वामी अजेकपाद है। पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र का स्वामी बृहस्पति ग्रह है। नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार 17 जनवरी से अप्रैल तक कार्यक्षेत्र में सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि इस दौरान विवाद की स्थिति रहेगी। मई के बाद आपका वैवाहिक जीवन कठिन दौर से गुजर सकता है।


आर्थिक दृष्टि से यह समय अच्छा है। अगर आप पैतृक संपत्ति विवाद या किसी अन्य मामले से जूझ रहे हैं तो यह मामला आपके पक्ष में सुलझ जाएगा और आपके लिए फायदेमंद रहेगा।


प्रेम और वैवाहिक जीवन की बात करें तो वर्ष 2025 में नवविवाहित लोगों को पारिवारिक जीवन में तनाव महसूस हो सकता है। विशेषकर अक्टूबर के बाद कुछ गलतफहमी होने की संभावना है। ऐसे में आपको संयम बरतने की जरूरत होगी। हर निर्णय सोच-समझकर लेने की सलाह दी जाती है।


स्वास्थ्य को लेकर आपको सलाह दी जाती है कि समय-समय पर रूटीन चेकअप कराते रहें। यदि आपको मधुमेह है, तो आपको तुरंत चिकित्सा सलाह लेनी चाहिए। अगर आप अपनी सेहत को नजरअंदाज करेंगे तो आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।


 

उत्तर भाद्रपद नक्षत्र 2025 की भविष्यवाणी

 

Uttara Bhadrapada Nakshatra

 

उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र का विस्तार मीन राशि में 3.20 अंश से 16.40 अंश तक होता है। इसका प्रतीक प्रतीक 'अंतिम संस्कार खाट का पिछला पैर या दो चेहरों वाला आदमी' है और नक्षत्र देवता अहिर्बुधन्य, नाग है जो गहरे पानी में रहता है। उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र का स्वामी ग्रह शनि है। नक्षत्र राशिफल 2025 के अनुसार इस वर्ष बृहस्पति आपके नक्षत्र में फरवरी 2025 तक रहेगा। इसके कारण मई के बाद आपको करियर के क्षेत्र में अच्छे परिणाम मिलेंगे और कार्यक्षेत्र में पदोन्नति की भी संभावना है। इस राशि के छात्रों के लिए अनुकूल समय अप्रैल में शुरू हो रहा है जब उन्हें पुरस्कार और सराहना भी मिल सकती है।


आपका वैवाहिक जीवन उम्मीद से बेहतर रहेगा और जीवनसाथी के बीच भरपूर सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से उंगलियों में किसी प्रकार की एलर्जी हो सकती है, इसलिए सावधान रहें।


आपको अपनी स्वस्थता के प्रति अधिक सावधान रहने की आवश्यकता होगी। अगर बहुत ज्यादा ऑयली खाना खाने से आपका वजन बढ़ गया है तो इसे नजरअंदाज न करें क्योंकि यह आपकी सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।


 

रेवती नक्षत्र 2025 भविष्यवाणी

 

Revati Nakshatra

 

रेवती नक्षत्र का विस्तार मीन राशि में 16.40 अंश से 30 अंश तक होता है। इसका प्रतीक 'मछली' है और नक्षत्र देवता संघ के देवता पूषाण हैं। रेवती नक्षत्र का स्वामी ग्रह बुध है, जो दर्शाता है कि इस राशि के जातकों को नई नौकरी मिलने की अच्छी संभावना है। हालाँकि मार्च से अगस्त के बीच कुछ विवाद हो सकते हैं। आपको इस वर्ष कान, नाक और गले पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी जाती है। यह समय प्रेमियों के लिए अच्छा हो सकता है क्योंकि उन्हें जीवन के हर क्षेत्र में एक-दूसरे से निरंतर सहयोग मिलेगा। सलाह दी जाती है कि अपने गुस्से पर काबू रखें।


 

नक्षत्रों का वार्षिक विश्लेषण

 


नक्षत्र को ज्योतिष के पांच सबसे महत्वपूर्ण घटकों में से एक माना जाता है। कुल 27 नक्षत्र हैं, जिन्हें लूनर मेंशन के नाम से भी जाना जाता है। अक्सर ऐसा होता होगा जब आपको लगता होगा कि आपके सितारे आपके पक्ष में नहीं हैं या सितारों की चाल आपके मुताबिक नहीं है, ऐसे में आपके मन में यह सवाल भी उठता होगा कि क्या नक्षत्रों का भी आपके जीवन पर कोई प्रभाव पड़ता है। हर व्यक्ति के जीवन पर नक्षत्रों का भी प्रभाव पड़ता है। नक्षत्र तारों के समूह को कहा जाता है। प्रत्येक नक्षत्र की अपनी विशेषताएँ, प्रतीकात्मक रूप और उद्देश्य होते हैं। इन नक्षत्रों में जीवन को ढालने की शक्ति होती है। अतः ऑनलाइन ज्योतिष परामर्श के माध्यम से आप अपने अनुकूल नक्षत्र के आधार पर अपना राशिफल जान सकते हैं कि यह नक्षत्र आपके जीवन में क्या परिवर्तन लाने वाला है।

Next Post
Eclipse 2025 Astrology
Eclipse 2025 Astrology
Read more
When Will I Get Job Astrology
When Will I Get Job Astrology
Read more
Right Leg Itching Male Astrology
Right Leg Itching Male Astrology
Read more